मुद्रा जोड़े

कॉमर्स का कार्य

कॉमर्स का कार्य

रतलाम / शहर में विकास के बड़े प्रोजेक्ट आकार लेने की तैयारी में, विधायक श्री काश्यप तथा कलेक्टर श्री सूर्यवंशी ने जिला न्यायालय, नवीन बस स्टैंड सहित अनेक भूमि चिन्हाकन तथा स्थल किए निरीक्षण

रतलाम,28नवंबर(इ खबर टुडे)। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान की मंशानुसार रतलाम शहर में विकास के कई बड़े प्रोजेक्ट आकार लेने जा रहे हैं जो शहरी विकास को नवीन आयाम देंगे। महत्वाकांक्षी विकास परियोजनाओं को अमलीजामा पहनाने के लिए सोमवार को विधायक चैतन्य काश्यप तथा कलेक्टर कॉमर्स का कार्य नरेंद्र कुमार सूर्यवंशी द्वारा संयुक्त रूप से स्थल निरीक्षण किए गए। परियोजनाओं हेतु भूमि चिन्हित की गई।

इस दौरान विधायक श्री काश्यप ने निर्देशित किया कि शहरी विकास को नई ऊंचाई देने वाली विकास परियोजनाओं को शीघ्र अति शीघ्र समय सीमा में मूर्त रूप दिया जाए। शहर एसडीएम संजीव पांडे, जिला पंजीयक डॉ. अमरीश नायडू, हाउसिंग बोर्ड के कार्यपालन यंत्री राजकुमार, सहायक यंत्री श्री सिसोदिया, तहसीलदार श्रीमती अनीता चौकोटिया, जिला खेल अधिकारी सुश्री रूबिका दीवान, पटवारी तेजवीर चौधरी आदि उपस्थित रहे।

इस कॉमर्स का कार्य दौरान विधायक तथा कलेक्टर द्वारा सालाखेड़ी में निर्माणाधीन ट्रांसपोर्ट नगर परियोजना का निरीक्षण किया गया। कार्य तेजी से चल रहा है, नक्शे पर क्रियान्वयन की स्थिति देखी गई। कलेक्टर श्री सूर्यवंशी द्वारा आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। इसके पश्चात आरटीओ कार्यालय के पृष्ठ भाग में जिला न्यायालय के लिए आवंटित भूमि का निरीक्षण किया गया। प्रस्तावित साड़ी क्लस्टर हेतु करमदी रोड पर भूमि देखी गई। यहां भूमि चिन्हित नहीं की जा सकी। मिड टाउन कॉलोनी के पीछे शहर के पर्सपैक्टिव प्लान और नवीन बस स्टैंड निर्माण हेतु भूमि देखी गई जहां आधुनिकतम बस स्टैंड की नींव रखी जाएगी। महू नीमच रोड मंडी के सामने सीएम राइस स्कूल तथा साड़ी क्लस्टर हेतु भूमि निरीक्षण किया गया।

शहर के विरियाखेड़ी क्षेत्र में कॉमर्स कॉलेज के पीछे शानदार ऑडिटोरियम बनेगा जिसके लिए भूमि चिन्हित की गई है। विधायक तथा कलेक्टर ने ऑडिटोरियम निर्माण के लिए मंगलवार से कार्य प्रारंभ करने के निर्देश हाउसिंग बोर्ड को दिए। मेडिकल कॉलेज के विस्तारीकरण की योजना के तहत कॉलेज के बगल से लगी भूमि का निरीक्षण भी किया गया। यहां लोगों द्वारा किए गए अतिक्रमण हटाने के निर्देश कलेक्टर द्वारा राजस्व अधिकारियों को दिए गए। उक्त भूमि में नर्सिंग कॉलेज, ट्रामा सेंटर, सुपर स्पेशलिटी सेंटर इत्यादि बनाए जाएंगे। बंजली में 15 करोड़ रूपए की लागत से बनने वाले खेल स्टेडियम के लिए चिन्हित की गई भूमि का निरीक्षण कॉमर्स का कार्य भी किया गया। उल्लेखनीय है कि खेल स्टेडियम 4 हेक्टेयर में निर्मित होगा। ऑडिटोरियम के लिए 8 हेक्टेयर भूमि की आवश्यकता होगी।

रेटिंग: 4.16
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 134
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *