शेयर ट्रेडिंग

आसानी से चुने मल्टीबेगर स्टॉक

आसानी से चुने मल्टीबेगर स्टॉक
विप्रो कंपनी का इतिहास (Wipro growth history in Hindi)

Mutual fund Gyan

मल्टी बेगर स्टाक (multi badger stock) वे स्टाक होते हे , जिनकी किमत निवेश किये गये दिनो से अब तक कई गुना बढ गई है। मल्टी बेगर स्टाक (multi badger stock) वे पेनी स्टाक होते है जिनके Fundamental बहुत मजबुत होते है। आसानी से चुने मल्टीबेगर स्टॉक जो की भविष्य मे काफी ज्यादा रिर्टन देते है जो आपके लगाये गये धन को कई गुना कर सकते है।

मल्टी बैगर स्टाक (multi badger stock)को पहचानने के लिये सबसे पहले आपको उस कम्पनी के बारे मे अच्छे से पता होना चाहीये जिस कम्पनी के आप शेयर खरिदना आसानी से चुने मल्टीबेगर स्टॉक चाहते है और उस कम्पनी के फण्डामेन्टल(Fundamental) को अच्छे से परखना (sizing up) होगा.

इस प्रकार के स्टाक चुनने के लिये कई सारे पहलु को देखना होता है जो कि महत्वपूर्ण होते है। मल्टी बैगर स्टाक चुनने के लिये आगे हम उन सभी पहलुओ को जानेगे।

एक अच्छा रिडर बने (Be a good reader)

मल्टी बैगर स्टाक (multi-bagger stock) चुनने के लिये आपको एक अच्छा रिडर होना चाहीये जो अपने आस पास और देश दुनिया मे घटित हो रही सभी चिजो पर नजर बनाये रखे। इसके लिये आपको आपके यहां पब्लीश हो रहे स्टाक मार्केट से संबंधित सभी न्युज पेपर (news paper) general और इन्टरनेशनल न्युज (international news) को पढना होगा जिससे की आप जान पायेगे की स्टाक मार्केट मे क्या चल रहा है और देश दुनिया के फेक्टर (factor) किस प्राकार से काम कर रहे है।

न्युज पेपर व जर्नल से यह पता चलता है कि किस स्टाक मे किस समय गति आ सकती है या आप जिस कम्पनी के शेयर पर नजर बनाये हुवे हे उस शेयर पर सभी फेक्टर किस प्रकार काम कर रहे है। आप इन सभी माध्यम से सरकार मे होने वाली नितियो के परिवर्तन पर भी नजर रख सकते है।

ग्रोथ सेक्टर को चुने (Select Growth Sector)

आप अपने ज्ञान और विवेक के आधार पर ग्रोथ सेक्टर (growth sector) चुन सकते है। वर्तमान मे कोन से सेक्टर है जो आगे भविष्य मे काफी अच्छा करेंगे। आपको उन सभी सेक्टर का पता होना चाहीये जो निकट भविष्य मे ग्रोथ (Growth) करेगे। जैसे एक समय आई टी सेक्टर बहुत ज्यादा बुम पर था।

एक समय आटोमोबाईल सेक्टर का समय था तो आपको इस प्रकार निकट भविष्य मे जो सेक्टर अच्छा परफार्म करेगा उन Share पर नजर रखना होगी और उन स्टाक को शार्ट लिस्ट (short list) करना होगा। आने वाले समय मे हो आसानी से चुने मल्टीबेगर स्टॉक सकता है सेनिटाइजर सेक्टर या इससे जुडे उद्योग ग्रोथ पर हो। या इलेक्ट्रिक (Electric) कार वाली कम्पनीयो के शेयर आसमान छुए

ग्रोथ सेक्टर के एक्टीव शेयर पर नजर रखे (Keep an eye on the active share of the growth sector)

एक्टीव शेयर (active share) को कम से कम 6 माह तक देखे उनकी स्थिति समझे और होने वाले बदलाव पर नजर रखे । देखे उनके स्पेक्युलेशन (speculation) तो नही हो रहा या उन शेयर को जानबुझ कर तो कोई नही बढा रहा। जब आप 6 महिने तक उन शेयर पर नजर रखेंगे तो आप उन्हे अच्छे से समझ जायेगे। ओर आपको निवेश करने मे आसानी होगी। और आप यकीनन प्राफीट कमायेगे।

जब आप उस सेक्टर को ओर उन कम्पनी की पहचान कर लेते है तो बारी आती है। उसके फण्डामेन्टल एनालिसिस (fundamental analysis) की, आपको फण्डामेन्टल एनालिसिस बहुत बारिकी से करना होगा तभी आप आसानी से चुने मल्टीबेगर स्टॉक इन शेयर को मल्टीबेगर के तोर पर भुना पायेंगे।

आपको उस कम्पनी के फ्युचर प्लान का पता होना चाहीये, उसका मेनेजमेन्ट केसा है। उसके प्रमोटर और शेयर होल्डर कोन है। उस कम्पनी के लोन , डेब्ट, इन्फ्रास्ट्रक्चर, आसानी से चुने मल्टीबेगर स्टॉक मेनपावर आदि का बारिकी से अध्ययन करना होगा जिससे की आपका लगाया गया पैसा कई गुना होकर वापस मिले।

Distance Education Hindi: डिस्टेंस एजुकेशन का मतलब क्या है?

By इंडिया रिव्यूज डेस्क Last updated Sep 29, 2021 3,346 0

Distance education का मतलब दूरस्थ शिक्षा से होता है. (Image Pixabay)

Distance education का मतलब दूरस्थ शिक्षा से होता है. (Image Pixabay)

डिस्टेंस लर्निंग या Distance education को हिंदी में दूरस्थ शिक्षा कहा जाता है. डिस्टेंस लर्निंग एजुकेशन प्रोग्राम (best distance learning आसानी से चुने मल्टीबेगर स्टॉक education programs) की आवश्यकता उन लोगों के लिए होती है, जो किसी कारणवश शारीरिक रूप से उपस्थित होकर क्लास रूप में शिक्षा हासिल नहीं कर सकते.

दूर शिक्षा के (history of distance education) जनक आइजक पिटमैन को माना जाता है. (Isaac pitman distance learning) आइजक पिटमैन ने 1840 में सबसे पहले पत्राचार के माध्यम से शिक्षा उपलब्ध कराने का प्रबंध किया था और बाकायदा छात्रों को शिक्षित किया. वे एक अमेरिकन इंग्लिश टीचर थे.

दूरस्थ शिक्षा के फायदे (Distance Learning Course Benefits in Hindi)

-Distance learning education program में किसी संस्थान में जाकर पढ़ाई करने की जरूरत नहीं है, यानी की नियमित कक्षाओं में उपस्थित नहीं होना है.

-Distance learning education में सभी पाठ्यक्रमों यानी की सिलेबस के लिए कक्षाओं की संख्या निर्धारित होती है और देशभर के कई केंद्रों पर पढ़ाई होती है.

-कोरोना जैसी महामारी के बाद पूरी दुनिया में दूरस्थ शिक्षा का महत्व बढ़ा है. (distance learning kya hota hai) खासतौर पर इंटरनेट ने ऑनलाइन शिक्षा को जिस स्तर पर सहज, सुलभ बनाया है वह एक क्रांतिकारी बदलाव है.

-Distance learning education program में Visual class room learning, interactive onsite learning, interactive online learning और video conferencing से स्टूडेंट पूरे देश में किसी भी जगह और किसी भी निर्धारित समय पर बैठकर शिक्षा ग्रहण कर सकते हैं.

Azim premji life story: ‘भारत के बिल गेट्स’ अज़ीम हाशिम प्रेमजी

By इंडिया रिव्यूज डेस्क Last updated Mar 17, 2019 6,229 0

भारत के बड़े उद्योगपतियों का जब भी जिक्र होता है, अज़ीम हाशिम प्रेमजी का नाम सबसे अग्रिम पंक्ति में लिया जाता हैं. नामी भारतीय व्यवसायी और मानव प्रेमी की परिभाषा अजीम प्रेम जी के साथ जुड़ी हुई है. भारत में आईटी जगत की सबसे नामी कंपनी विप्रो लिमिटेड के चेयरमैन प्रेम जी दुनिया के सबसे बड़े रईसों में भी गिने जाते हैं.

विप्रो कंपनी का इतिहास (Wipro history in short in hindi)
विप्रो सॉफ्टवेयर इंडस्ट्री को वैश्विक मंच पर आज जिस ओहदे के लिए जाना जाता है उसमें प्रेम जी का खून पसीना लगा है. कभी भीषण मंदी के दौर में कंपनी की बागडोर प्रेम जी के हाथों में आई थी. लेकिन उन्होंने कौशल और मेहनत से आज कंपनी को वहां खड़ा कर दिया जहां आज वो है. साल 2010 में प्रेम जी एशिया वीक की सूची में दुनिया की सबसे शक्तिशाली 20 हस्तियों में शामिल किया गया.

IND vs SA Is Shardul Thakur a Bowling or a Batting Allrounder Team India player Responds

नई दिल्ली. शार्दुल ठाकुर (Shardul Thakur) का करियर अभी भी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में काफी युवा है. हालांकि, मुंबई के इस क्रिकेटर ने बहुत कम समय में ही खुद को एक उपयोगी ऑलराउंडर के रूप में विकसित आसानी से चुने मल्टीबेगर स्टॉक किया है. वह भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच केपटाउन में चल रहे तीसरे और अंतिम टेस्ट में भारतीय टीम (India vs South Africa) का हिस्सा हैं. उन्होंने सीरीज में अब तक 11 विकेट लिए हैं और अपनी टीम के लिए कुछ महत्वपूर्ण रनों का योगदान भी दिया है. हर बार जब दाएं हाथ के मध्यम तेज गेंदबाज से बॉलिंग करवाई जाती है तो अनुमान लगाया जाता है कि वह विकेट झटकेंगे. बल्ले से वह इतनी आसानी से हुक, पुल और ड्राइव कर सकते हैं, जिससे शीर्ष क्रम के किसी भी बल्लेबाज को गर्व होगा.

रेटिंग: 4.29
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 717
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *