चरण निर्देश

ईटीएफ के साथ आसानी से विदेशी मुद्रा में निवेश करें

ईटीएफ के साथ आसानी से विदेशी मुद्रा में निवेश करें
हाल ही में, भारत के सबसे बड़े लेंडर SBI ने Cashree Payments में निवेश किया है. स्टार्टअप सभी प्रमुख बैंकों के साथ मिलकर काम करता है ताकि कोर पेमेंट्स और बैंकिंग इन्फ्रास्ट्रक्चर का निर्माण किया जा सके जो बाद के प्रोडक्ट्स को शक्ति प्रदान करता है. यह Shopify, Wix, Paypal, Amazon Pay, Paytm और Google Pay जैसे प्रमुख प्लेटफॉर्म के साथ भी इंटीग्रेटेड है. भारत के अलावा, Cashree ईटीएफ के साथ आसानी से विदेशी मुद्रा में निवेश करें Payments प्रोडक्ट्स का उपयोग अमेरिका, कनाडा और संयुक्त अरब अमीरात सहित ईटीएफ के साथ आसानी से विदेशी मुद्रा में निवेश करें आठ अन्य देशों में किया जाता है.

विदेशी शेयर बाजार से प्रॉफिट कमाना चाहते हैं तो निवेश की इन गलतियों से बचें

शंकर शर्मा और देविना मेहरा

हमने 2019 में मॉर्निंगस्टार सम्मेलन में एक प्रेजेंटेशन दी जिसने निवेशकों के बीच काफी हलचल पैदा कर दी थी। प्रेजेंटेशन का विषय यह था कि भारतीय इक्विटी बाजार ने पिछले 10, 5, 3 और 1 वर्ष की अवधि में बेहद निराशाजनक रिटर्न दिए हैं ।

2010 से अब तक, डॉलेक्स (अमेरिकी डॉलर में सेंसेक्स) 6% नीचे है। इसका मतलब है कि अमेरिकी डॉलर में भारतीय बाजारों ने पिछले 10 साल में नेगेटिव रिटर्न दिया है। 2019 के आंकड़े भी चौंकाने वाले हैं।

2019 के आंकड़े भी चौंकाने वाले हैं।

संबंधित खबरें

PM Awas Yojana: पीएम आवास योजना की साल 2022-23 की नई लिस्ट जारी, जल्द इस तरीके से चेक करें अपना नाम

यहां ATM से निकलेगा सोना, दुनिया में पहली बार हुआ ऐसा, जानें Gold एटीएम से कैसे निकलेगा सोना

7th Pay Commission: कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर, सरकार के इस फैसले से पेंशन और सैलरी में होगा बंपर इजाफा!

बाकी बाजारों की बात छोड़ भी दें, तब भी यह बात ध्यान देने लायक है कि तुर्की जैसे बाजार ने भी भारत से बेहतर प्रदर्शन किया। इससे भी ज्यादा चौंका देने वाली बात यह है कि FD और बॉन्ड जैसे दुनिया भर के फिक्स्ड रिटर्न देने वाले प्रोडक्ट्स ने भी भारत के शेयर बाजार से ज्यादा रिटर्न दिया।

इन डेटा से इमर्जिंग मार्केट और खासकर भारतीय निवेशकों के लिए एक बात साफ हो गई कि एक देश, एक मुद्रा, एक एसेट का रिस्क लॉन्गटर्म रिटर्न और रिस्क मैनेजमेंट के लिए ठीक नहीं है। लिहाजा इंटरनेशनल डायवर्सिफिकेशन यानी अमेरिकी या यूरोपीय बाजारों में निवेश बढ़ा है। लेकिन दुर्भाग्य से ईटीएफ के साथ आसानी से विदेशी मुद्रा में निवेश करें इसके परिणाम भी अच्छे नहीं रहे।

अब विदेशी शेयरों को खरीदना होगा और भी आसान, Cashfree Payments को RBI ने दी मंजूरी

अब विदेशी शेयरों को खरीदना होगा और भी आसान, Cashfree Payments को RBI ने दी मंजूरी

अब भारतीय यूजर विदेशी एक्सचेंजों पर लिस्टेड शेयरों को आसानी से खरीद सकेंगे. फिनटेक स्टार्टअप Cashfree Payments ने इसे संभव बनाने के लिए खास फीचर बनाया है, जिसे रोल आउट करने के लिए RBI ने मंजूरी दे दी है.

फिनटेक स्टार्टअप ने  Cashfree Payments  ने हाल ही में घोषणा की है कि उसे अपने क्रॉस-बॉर्डर प्रोडक्ट्स के लिए भारतीय ईटीएफ के साथ आसानी से विदेशी मुद्रा में निवेश करें ईटीएफ के साथ आसानी से विदेशी मुद्रा में निवेश करें रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India - RBI) से मंजूरी मिल गई है. क्रॉस-बॉर्डर प्रोडक्ट्स पर रेग्यूलेटरी Sandbox के तहत RBI के दूसरे कोहोर्ट के दौरान कंपनी ने सफलतापूर्वक इस प्रोडक्ट को पेश किया. यह प्रोडक्ट भारतीय फिनटेक कंपनियों को भारतीय निवेशकों के लिए एक फीचर के रूप में यूपीआई / नेट बैंकिंग के माध्यम से विदेशी मुद्रा में सूचीबद्ध शेयरों, एक्सचेंज-ट्रेडेड फंड (ETF) यूनिट्स और दूसरी एसेट्स खरीदने में मददगार साबित होगा.

कैसे काम करता है फीचर?

इस मॉडल के जरिए निवेशकों को केवल Cashree Payments के साथ इंटीग्रेटेड ऐप में लॉग इन करना होगा. भारतीय मुद्रा (INR) में ट्रांसफर शुरू करने के लिए उन्हें KYC प्रोसेस से गुजरना होगा. कंपनी तब इस ट्रांसफर की गई राशि को USD की तरह विदेशी मुद्रा में कन्वर्ट कर देगी, और इसे विदेशी ब्रोकर को भेज देगी, जिससे निवेशक इंटरनेशनल स्टॉक को सफलतापूर्वक खरीद सकेंगे.

भारतीय निवेशकों के बीच ज्यादातर बड़ी टेक और फार्मा कंपनियों के अमेरिकी स्टॉक सबसे लोकप्रिय हैं. Cashree Payments कई ईटीएफ के साथ आसानी से विदेशी मुद्रा में निवेश करें भारतीय फिनटेक प्लेटफॉर्म के साथ काम कर रहा है, जो एक फीचर के रूप में क्रॉस-बॉर्डर निवेश की पेशकश कर रहे हैं.

Cashree Payments के को-फाउंडर रीजू दत्ता ने कहा, “हमें क्रॉस बॉर्डर पेमेंट्स पर रेग्यूलेटरी Sandbox के तहत RBI के दूसरे कोहोर्ट के टेस्टिंग फेज ईटीएफ के साथ आसानी से विदेशी मुद्रा में निवेश करें को सफलतापूर्वक पूरा करने की खुशी है. यह उपलब्धि पेमेंट इकोसिस्टम में लगातार नए और कामगार सॉल्यूशन बनाने के हमारे प्रयासों की पुष्टि करती है. हमारा क्रॉस-बॉर्डर पेमेंट प्लेटफ़ॉर्म विदेशी शेयरों में निवेश को बहुत आसान और सुविधाजनक बनाने का इरादा रखता है, जिससे रिटेल इनवेस्टर स्थानीय ईटीएफ के साथ आसानी से विदेशी मुद्रा में निवेश करें भुगतान विधियों के माध्यम से भुगतान कर सकें. प्रोडक्ट को अलग-अलग मापदंडों पर परखा गया था. हम भारतीय फिनटेक इकोसिस्टम के साथ काम करने के लिए तत्पर हैं और भारतीय निवेशकों को अंतरराष्ट्रीय निवेश तक पहुंच प्रदान करते हैं."

भारत में म्यूचुअल फंड में निवेश कैसे करें?

म्यूचुअल फंड उद्योग एक प्रकार का निवेश वाहन है जो कई निवेशकों से स्टॉक, बॉन्ड, मनी मार्केट इंस्ट्रूमेंट आदि जैसी प्रतिभूतियों में ईटीएफ के साथ आसानी से विदेशी मुद्रा में निवेश करें निवेश करने के लिए धन एकत्र करता है। पेशेवर मनी मैनेजर म्यूचुअल फंड का प्रबंधन करते हैं, संपत्ति आवंटित करते हैं और निवेशकों के लिए पूंजीगत लाभ का उत्पादन करने का प्रयास करते हैं। म्यूचुअल फंड पोर्टफोलियो संरचित और उनके प्रॉस्पेक्टस में उल्लिखित निवेश उद्देश्यों से मेल खाने के लिए प्रबंधित होते हैं। व्यक्ति और छोटे व्यवसाय म्यूचुअल फंड में निवेश कर सकते हैं, जो उन्हें स्टॉक, बॉन्ड आदि के पेशेवर रूप से प्रबंधित पोर्टफोलियो तक पहुंच प्रदान करते हैं। शेयरधारक फंड के लाभ या हानि को आनुपातिक रूप से साझा करते हैं। आम तौर पर, म्यूचुअल फंड का प्रदर्शन फंड के कुल मार्केट कैप में बदलाव पर आधारित होता है, जो फंड के अंतर्निहित निवेश के प्रदर्शन को जोड़कर प्राप्त किया जाता है।

Polls

  • Property Tax in Delhi
  • Value of Property
  • BBMP Property Tax
  • Property Tax in Mumbai
  • PCMC Property Tax
  • Staircase Vastu
  • Vastu for Main Door
  • Vastu Shastra for Temple in Home
  • Vastu for North Facing House
  • Kitchen Vastu
  • Bhu Naksha UP
  • Bhu Naksha Rajasthan
  • Bhu Naksha Jharkhand
  • Bhu Naksha Maharashtra
  • Bhu Naksha CG
  • Griha Pravesh Muhurat
  • IGRS UP
  • IGRS AP
  • Delhi Circle Rates
  • IGRS Telangana
  • Square Meter to Square Feet
  • Hectare to Acre
  • Square Feet to Cent
  • Bigha to Acre
  • Square Meter to Cent

भारत में बैठ कर कीजिए अमेरिकी शेयर बाजार में निवेश

अमेरिकी स्टॉक में करें निवेश एक डॉलर से

अमेरिकी स्टॉक में करें निवेश एक डॉलर से

  • शून्‍य ब्रोकरेज फीस के साथ यूएस स्‍टॉक्‍स में असीमित ट्रांजेक्‍शंस कर सकेंगे भारतीय निवेशक
  • एक से भी कम शेयर में निवेश करने की सुविधा
  • ऐमजॉन, गूगल या बर्कशायर हैथवे जैसे ऊंची कीमतों वाले शेयर्स में भी न्‍यूनतम 200 से निवेश शुरू कर सकते हैं
  • ईटीएफ के साथ आसानी से विदेशी मुद्रा में निवेश करें
  • प्रोफेशनल्‍स द्वारा तैयार किये गये पोर्टफोलियोज और स्‍टॉकस व ईटीएफ के थीम-आधारित बास्‍केट्स में मिलेगा निवेश का मौका

कुछ क्लिक में हो जाएगा यूएस स्टॉक में निवेश
अब निवेशक मात्र कुछ ही क्लिक्‍स में फेसबुक, एप्‍पल, नेटफ्लिक्‍स, गूगल व अन्‍य कंपनियों के शेयर्स की खरीद/बिक्री कर सकते हैं; या थीम-आधारित बाजारों या ईटीएफ में निवेश कर सकते हैं। विशाल वैश्विक बाजार की आसान उपलब्‍धता के साथ, निवेशक न केवल भौगोलिक डाइवर्सिफिकेशन का लाभ ले सकते हैं बल्कि अपने पोर्टफोलियो को एक देश और एक मुद्रा के जोखिम से बचा सकते हैं। यह विशिष्‍ट समाधान, प्रोफेशनल्‍स द्वारा तैयार किये गये पोर्टफोलियो और थीम-आधारित स्टॉक्‍स व ईटीएफ उपलब्‍ध कराता है, जिसे लेने से लेकर फंड ट्रांसफर की पूरी प्रक्रिया डिजिटल है और इस प्रकार, यह सुनिश्चित करता है कि ग्‍लोबल इन्‍वेस्टिंग #सिम्‍पल है।

रेटिंग: 4.32
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 624
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *