चरण निर्देश

शेयर मार्केट में वॉल्यूम कैसे चेक करें?

शेयर मार्केट में वॉल्यूम कैसे चेक करें?
नई दिल्ली। कोरोना महामारी के बीच शेयर बाजार ने बीते दो साल में निवेशकों को शानदार रिटर्न दिया है। इसके चलते डीमैट खातों की संख्या दो करोड़ से बढ़कर 7.5 करोड़ से अधिक हो गई है। ऐसे में अगर आप भी शेयर बाजार में निवेश करते हैं और सही स्टॉक का चुनाव नहीं करने के कारण नुकसान में है तो हम आपको सही शेयर के चुनाव के लिए 11 टिप्स दे रहे हैं। इनको फॉलो कर आप न सिर्फ अपना जोखिम कम कर पाएंगे बल्कि 100% से 500% तक का तगड़ा रिटर्न वाले शेयर का चुनाव भी आसानी से कर पाएंगे।

शेयरों का चुनाव- India TV Hindi

निवेश के लिए सही शेयर कैसे खरीदें, इन 6 बातों का रखें ध्यान

By: एबीपी न्यूज़ | Updated at : 10 Jun 2021 10:24 PM (IST)

आप अगर निवेश के लिए शेयर खरीदने की योजना बना रहे हैं तो जान लें कि यह कोई आसान काम नहीं है. ऐसी कई बातें हैं जिन पर ध्यान न देने से नुकसान झेलना पड़ सकता है. बिना छानबीन और सुनी सुनाई बातों के आधार पर शेयर नहीं खरीदना चाहिए. आज हम आपको ऐसी ही कुछ बातों के बारे में बताएंगे जिन्हें ध्यान में रखकर आप सही शेयर चुन सकते हैं.

मजबूत शेयर के साथ जुड़ें
मजबूत शेयर (जिनमें ट्रेडिंग वॉल्यूम ज्यादा हो) के साथ जुड़ा रहना फायदे का सौदा है. कम ट्रेड किए जाने वाले शेयरों में नकली तेजी लाई जा सकती है. बड़े शेयरों में इसकी गुंजाइश अधिक नहीं होती है.

कंपन की ये तीन चीजें देखें
शेयर चुनते वक्त कभी भी इधर-उधर की सलाह जैसे फोन और एसएमएस पर मिलने वाली हॉट टिप्स पर बिल्कुल ध्यान नहीं देना चाहिए. इसी तरह टीवी पर कोई बढ़िया चर्चा देखकर पैसा लगाने का फैसला नहीं करें. शेयर खरीदने से पहले कंपनी की अर्निंग ग्रोथ, मैनेजमेंट क्वालिटी और बैलेंसशीट पर ध्यान देना चाहिए. इन तीन बिंदुओं पर मजबूत कंपनी में नुकसान के आसार कम होंगे.

1. निवेश से पहले EPS के गणित को समझें

EPS का मतलब होता है कि कंपनी के नेट प्रॉफिट में से कंपनी के प्रत्येक शेयर का हिस्सा। EPS का सीधा संबंध कंपनी के लाभ से होता है। अगर EPS अच्छा है तो इसका मतलब है कि कंपनी अच्छा मुनाफा कमा रही है। आप EPS को वार्षिक या मासिक आधार पर जरूर देंखे। इसका कलकुलेशन बहुत ही आसान है। कंपनी की कुल शुद्ध लाभ और उसके शेयरों की संख्या से विभाजित करके ईपीएस हासिल किया जा सकता है।

P/E यानी Price to Earning Ratio। इस रेश्यो को कंपनी के 1 शेयर की मार्केट कीमत में EPS का भाग देकर निकाला जाता है। अगर किसी कंपनी का EPS 10 रुपयेे प्रति शेयर हैं। अगर कंपनी के शेयर का भाव 200 रुपये है तो कंपनी का P/E Ratio 20 होगा। इसका मतलब हुआ की आपको एक वर्ष में 10 रुपये कमाने के लिए 20 गुना पैसे देने होंगे। अतः आपको एक शेयर के लिए 200 रुपये देने होंगे।

3. RoE और RoCE को समझना बहुत जरूरी

दोनों रेश्यो किसी भी कंपनी के शेयर का चुनाव करते समय सबसे महत्वपूर्ण माने जाते हैं। यह रेश्यो आपको बताते हैं की लगाई हुई इक्विटी या कैपिटल पर कितना रिटर्न प्राप्त हो रहा हैं। आरओई रेश्यो आपको बताता हैं की कंपनी अपने इक्विटी पर कितना पैसा या रिटर्न बना रही है। आसान भाषा में समझे तो कंपनी के लगाए पैसे पर कितना पैसा बन रहा हैं।

पहली बार बाजार में पैसा लगाने वाले या नए निवेशक शेयर को तुक्का का खेल समझते हैं, जबकि ठीक उलट शेयर में निवेश एक रणनीति की मांग करता है। आप किस कंपनी का शेयर खरीद रहे हैं, उसकी मार्केट में स्थिति कैसी है, पिछले कुछ समय से उसकी शेयर शेयर मार्केट में वॉल्यूम कैसे चेक करें? बाजार में क्या स्थिति रही है आदि की जानकारियां एक निवेशक को होनी चाहिए। सिर्फ कम कीमत देखकर जुए के खेल की तरह शेयर खरीदना और उससे लाभ की उम्मीद लगाना आपको भारी शेयर मार्केट में वॉल्यूम कैसे चेक करें? नुकसान करा सकता है।

5. कंपनी के ऊपर कर्ज का आकलन

शेयर मार्केट में शेयर चुनते समय कंपनी के ऊपर कितना कर्ज यह जरूर देखना चाहिए। अगर किसी कंपनी के ऊपर ज्यादा कर्ज हैं तो उसे बहुत ज्यादा ब्याज होगा। इसलिए आप जिस शेयर में इन्वेस्टमेंट कर रहे हो उस कंपनी के ऊपर कम से कम कर्ज होना चाहिए। एक कर्ज मुक्त कंपनी को आप ज्यादा तवज्जो देना चाहिए। एक निवेशक के तौर पर आप कंपनी का Debt-Equity Ratio देख सकते हैं। Debt-Equity Ratio अगर 1 से कम हो तो अच्छा माना जाता है। यह रेश्यो अगर जीरो हो तो यह एक आदर्श रेश्यो माना जाता हैं।

जिन कंपनियों की वित्तीय हालत अच्छी होती है और लाभ कमाती हैं। वह अपने शेयर होल्डर्स को लाभांश का भुगतान करती है। शेयर की प्राइस में इजाफे के साथ-साथ नियमित आय के रूप में डिविडेंड को भी महत्व देना चाहिए। किसी शेयर का चुनाव करते समय उस कंपनी के पिछले 5 सालों के डिविडेंड भुगतान का रिकॉर्ड देखें।

7. मजबूत मैनजमेंट का चयन

किसी भी कंपनी का मैनेजमेंट उस कंपनी की आत्मा माना जाता है। एक अच्छा मैनेजमेंट कंपनी के भविष्य को अधिक उज्जवल बना सकता है जबकि अक्षम मैनेजमेंट अच्छी कंपनी को भी नीचे की ओर ला सकता है। इसलिए आप Share Select करते समय कंपनी के मैनेजमेंट के बारे में सही जानकारी जरूर हासिल करें।

शेयर चुनने से पहले Share Buyback के बारे में जानकारी लें। अगर प्रमोटर स्वयं की कंपनी के शेयर पब्लिक से वापस खरीद रहे हैं तो इसका मतलब है कि उन्हें कंपनी के बिजनेस मॉडल में विश्वास है और भविष्य में कंपनी के अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद हैं। इसके साथ ही कंपनी की शेयर होल्डिंग पैटर्न चेक करें। किसी कंपनी का शेयर होल्डिंग पेटर्न यह दिखाता है कि कंपनी के शेयर किन-किन व्यक्तियों के पास हैं? इसमें आपको देखना है कि शेयर का कितना हिस्सा प्रमोटर्स के पास हैं। प्रमोटर्स के पास जितना अधिक शेयर का हिस्सा होगा, उतना ही अच्छा माना जाता है।

Share Market: शेयर चुनने का सबसे आसान तरीका, 5 मिनट में खुद बनें मार्केट Expert!

सिद्धार्थ ज़राबी

  • नई दिल्ली,
  • 23 जनवरी 2022,
  • अपडेटेड 10:44 AM IST

Share Market में इन्वेस्ट करना चाहते हैं तो पहले ये जान लें, क्या है सही शेयर चुनने का शेयर मार्केट में वॉल्यूम कैसे चेक करें? तरीका. अधिकतर रिटेलर (Retailer) या फिर कहें आम आदमी, अक्सर दूसरे के कहने पर शेयर बाजारों (Share Market) में निवेश करते हैं, उन्हें कोई कह देता है कि ये Stock अच्छा रिटर्न (Return) दे सकता है और फिर उसमें वे अपनी गाढ़ी कमाई लगा देते हैं. लेकिन क्या आपने ये कभी जानने की कोशिश की है कि जिस कंपनी के स्टॉक में आप निवेश कर रहे हैं, उसका कारोबार कैसा है? इस वीडियो में जानें शेयर चुनने का सबसे आसान तरीका.

मैगेलैनिक क्‍लाउड ने दिया 165 फीसदी रिटर्न

मैगेलैनिक क्‍लाउड (Magellanic Cloud) का नाम हमारी मल्‍टीबैगर स्‍टॉक लिस्‍ट में सबसे शेयर मार्केट में वॉल्यूम कैसे चेक करें? ऊपर है. एक महीने में XT group का यह शेयर करीब 165 फीसदी की छलांग मार चुका है. यह एक महीना पहले 87.30 रुपये का था जो अब बढ़कर 231 रुपये का हो चुका है. इस शेयर की मार्केट कैपिटल करीब 581 करोड़ रुपये है और इसका पी/ई रेशो 17.34 है. शुक्रवार के ट्रेड में इस शेयर ने 52 वीक का न्‍यू हाई बनाया है. इसका 52 वीक लो 37.25 रुपये है. इस स्‍तर के इसने पिछले साल नवंबर में छूआ था. इसका मौजूद ट्रेड वॉल्‍यूम 2,821 है जो इसके 20 दिन एवरेज वॉल्‍यूम 17193 से बहुत कम है.

सेज़ल ग्‍लास (Sezal Glass) के शेयर ने भी एक महीने में करीब 162 फीसदी का रिटर्न दिया है. यह 29.45 रुपये से 77.35 रुपये पर पहुंच गया है. इसका करंट मार्केट कैपिटेलाइजेशन 77.35 लाख रुपये है. एनएसई (NSE) पर यह अपने 52 वीक हाई पर है. जबकि इसका 52 वीक लो 13 रुपये है. इस स्‍तर को इसने पिछले साल दिसंबर में छुआ था. अगर पिछले डेढ महीने की बात करें तो इस पैनी स्‍टॉक ने अपने निवेशकों का 390 फीसदी रिटर्न दिया है.

टाइन एग्रो से मिला तगड़ा मुनाफा

टाइन एग्रो का शेयर (Tine Agro) यह एक्‍स ग्रुप स्‍मॉल कैप मल्‍टीबैगर पैनी स्‍टॉक (Penny Stock) एक महीने में 8.25 रुपये प्रति शेयर से 21.60 रुपये (Tine Agro Share Price) तक पहुंच चुका है; इस तरह इसने भी करीब 162 फीसदी का रिटर्न दिया है. इसी लिक्विडिटी बहुत कम है क्‍योंकि इसकी वर्तमान मार्केट कैपेटेलाइजेशन 12 करोड़ रुपये है. बीएसई (BSE) पर फिलहाल यह पैनी स्‍टॉक अपने 52 वीक हाई पर है. टाइन एग्रो के शेयर का 52 वीक लो 3.90 रुपये है. इसका फिलहाल ट्रेड वॉल्‍यूम 1300 हो जो इसके 220 दिन एवरेज 5620 रुपये से काफी कम है.

मैत्री इंटरप्राइजेज (Maitri Enterprises) के शेयर में भी 161 फीसदी का उछाल एक महीने में आया है. यह 22.70 से उछलकर 59.30 रुपये (Maitri Enterprises Share Price) पर पहुंच चुका है. यह एक लो लिक्विडिटी स्‍टॉक है और इसका करंट मार्केट कैपिटल 26 करोड़ रुपये है. मैत्री इंटरप्राज़ेज का स्‍टॉक फिलहाल अपने 52 वीक हाई पर ट्रेड कर रहा है. इस शेयर ने एक पैनी शेयर से लो लिक्विडिटी स्‍मॉल कैप स्‍टॉक बनने में महज एक साल का समय लिया है. इसी प्रति शेयर बुक वैल्‍यू 10.78 है और इसका करंट ट्रेड वॉल्‍यूम 159 है. यह इसकी 20 डे एवरेज वाल्‍यूम 1465 से काफी कम है.

एआरसी फाइनेंस भी बना मल्‍टीबैगर

एआरसी फाइनेंस (ARC Finance) के शेयर ने भी 160 फीसदी रिटर्न अपने निवेशकों को एक महीने में दिया है. इस शेयर की कीमत एक महीने पहले 13.11 रुपये थी जो अब बढ़कर 34.15 (ARC Finance Share Price) रुपये हो चुकी है. यह भी एक लो लिक्विडिटी स्‍टॉक है, जिसका मार्केट कैपिटेलाइजेशन करीब 172 करोड़ रुपये है. इसने बीएसई पर शुक्रवार को अपना 52 वीक हाई को छूआ है. इस मल्‍टीबैगर पैनी स्‍टॉक ने पर शेयर वैल्‍यू करीब 10 बुक की है. इस शेयर का वर्तमान वॉल्‍यूम 13,71,193 है जो इसके 20 दिनों के एवरेज वॉल्‍यूम 10,16,639 से काफी ज्‍यादा है.

(Disclaimer: यहां बताए गए स्‍टॉक्‍स ब्रोकरेज हाउसेज की सलाह पर आधारित हैं. यदि आप इनमें से किसी में भी पैसा लगाना चाहते हैं तो पहले सर्टिफाइड इनवेस्‍टमेंट एडवायजर से परामर्श कर लें. आपके किसी भी तरह की लाभ या हानि के लिए लिए News18 जिम्मेदार नहीं होगा.)

रेटिंग: 4.16
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 189
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *