शुरुआती लोगों के लिए अवसर

सबसे अच्छा स्टॉक ट्रेडर कौन है?

सबसे अच्छा स्टॉक ट्रेडर कौन है?

13 Best Trading App in india 2022| भारत का सबसे अच्छा ट्रेडिंग ऐप

लेकिन अगर आप trading start करने या Trading app पर switch करने की योजना बना रहे हैं, तो आपको apps के बारे में basic बातों की जांच करनी चाहिए और best app for stock market तथा Best Trading App in India (भारत का सबसे अच्छा ट्रेडिंग ऐप) के साथ निवेश करना चाहिए।

Table of Contents

What is Share market in hindi | what is Stock Market in hindi

Share Market तथा Stock Market एक ऐसा market है जहाँ काफी सारे companies के stocks या shares खरीदते और बेचते हैं. ये एक ऐसा स्थान है जहाँ कई लोग या तो बहुत पैसे कमा लिया करते हैं या तो अपने सारे पैसे गवा दिया करते हैं, किसी भी कंपनी का shares या stocks खरीदने का अर्थ है आप उस company में हिस्सेदार या partner बन जाना।

आप सबसे अच्छा स्टॉक ट्रेडर कौन है? जितना भी पैसे लगाते हैं, तो आप लगाए हुए पैसे के हिसाब से कुछ percent के मालिक उस कंपनी के बन जाते हैं। जिसका अर्थ ये है की अगर उस कंपनी को future में मुनाफा हुआ सबसे अच्छा स्टॉक ट्रेडर कौन है? तो आपके लगाए हुए पैसे से दुगना पैसा आपको मिलता है और यदि घाटा होता है तो आपका भी नुकसान होगा।

जिस तरह Share market in Hindi में पैसे कमाना या बनाना easy है ठीक उसी तरह यहाँ पैसे गवाना भी उतना ही easy है क्यूंकि stock market में उतार चढ़ाव होते रहते हैं.

What is a trading app?| ट्रेडिंग ऐप क्या है?

Trading app एक mobile app है जो Share Market में Trading की सुविधा प्रदान करता है। अलावा, यह आपको Market news, research reports, विभिन्न Shares prices आदि प्रदान करता है ताकि आप Share Market में trade करते समय एक Inform decision ले सकें। इसके अतिरिक्त, Trading apps आमतौर पर आपको IPO, Mutual Fund, Commodity, Gold आदि में Investment करने की सुविधा प्रदान करते हैं।

Trading app आपके Trading की Real-time processing offer करते हैं और आपके Shares के performance monitor करने में आपकी मदद करते हैं। आप किसी भी समय, कहीं भी एक Trusted app के साथ shares buy और sell कर सकते हैं।

List of best trading apps in India to earn money में जाने से पहले, आइए उन Factors पर एक नज़र डालें, जिन पर आपको शुरुआती लोगों के लिए Best trading app in india 2022 चुनते समय विचार करना चाहिए।

Points to keep in mind while choosing the best trading app

आप Broker को app से बदल रहे हैं और जानना चाहते हैं कि Which app is the best for trading in India? इसलिए, आपको Best trading app चुनते समय बहुत सावधान रहना चाहिए क्योंकि यह आपके सभी Investments को संभालेगा। निम्नलिखित parameters के साथ उनका assessment करके Best Trading App in India चुनें।

1. Reliability

App की Reliability और credibility की जांच करना आवश्यक है। आपको app की Security के बारे में अच्छी तरह से research करना चाहिए। इसके अतिरिक्त, आप अन्य Users के Experience को जानने के लिए Online reviews देख सकते हैं।

2. User-friendly Interface

एक Complex interfaces के साथ Trading app आपके लिए Trading को एक difficult task बना सकता है। Trading को easy बनाने के लिए हमेशा simple लेकिन Clear interface वाले Trading apps की तलाश करें।

3. Fees and charges

Trading app आपके investment Manage करने के लिए अलग-अलग fee लेता है। इसलिए, app का उपयोग करने से पहले fee and charges की जांच करना महत्वपूर्ण है ताकि आपके Benefit app fees कि वजह से दूर न हों।

4. Features

आपको app features पर करीब से नज़र डालनी चाहिए। अपने Investment option की सहायता के लिए आवश्यक सुविधाओं के अनुसार app की list को brief करें।

शेयर बाजार से कौन कमाता है सबसे ज्यादा पैसा, इन 5 को आप जानते हैं?

अमित कुमार दुबे

हर कोई शेयर बाजार से पैसा बनाना चाहता है. पिछले कुछ महीनों में शेयर बाजार के प्रति रिटेल निवेशकों का झुकाव बढ़ा है. लेकिन अधिकतर लोग शेयर बाजार से पैसे नहीं कमा पाते हैं. कम अनुभव और बाजार की चाल को सही से नहीं समझ पाने के कारण स्टॉक मार्केट में नाकामी मिलती है. लेकिन कई ऐसे लोग हैं, जो बाजार की नब्ज को समझते हैं और आज देश से बड़े निवेशक माने जाते हैं. आज हम आपको 5 ऐसी शख्सियत के बारे में बताने जा रहे हैं, जो हर शेयर बाजार से करोड़ों कमाते हैं. एक तरह से ये शेयर बाजार के धनकुबेर हैं. (Photo: Getty Images)

बिग बुल राकेश झुनझुनवाला

1. राकेश झुनझुनवाला: राकेश झुनझुनवाला (Rakesh Jhunjhunwala) को शेयर बाजार (Stock Maket) में निवेश का 40 साल से ज्यादा का अनुभव है. वे जिस शेयर में हाथ डालते हैं, वो दौड़ने लगता है. निवेशक उनकी टिप्स को ऐसे फोलो करते हैं. झुनझुनवाला को भारतीय शेयर बाजार का वॉरेन बफे भी कहा जाता है. उन्होंने 18 साल की उम्र में ही शेयर बाजार में कदम रखा. (Photo: Getty Images)

 5,000 रुपये से की थी निवेश की शुरुआत

झुनझुनवाला ने अपने करियर की शुरुआत महज 5,000 रुपये से की थी. दिग्गज निवेशक ने साल 1985 में दलाल स्ट्रीट (Dalal Street) का सफर शुरू किया था, तब BSE सेंसेक्स 150 अंक के स्तर पर था. राकेश झुनझुनवाला के मुताबिक 1988 में उनकी नेट वर्थ एक करोड़ रुपये थी, जो 1993 में बढ़कर 200 करोड़ हो गई. फोर्ब्स के मुताबिक आज राकेश झुनझुनवाला (Rakesh Jhunjhunwala net worth) के पास 36,000 करोड़ रुपये से ज्यादा की दौलत है. (Photo: Getty Images)

राधाकिशन दमानी

2. राधाकिशन दमानी: राधाकिशन दमानी (Radhakishan Damani) लाइमलाइट से दूर रहते हैं. लेकिन बड़े निवेशक के तौर पर गिने जाते हैं. दमानी एक सफल निवेशक के साथ-साथ सफल बिजनसमैन भी हैं. डी-मार्ट नाम के रीटेल चेन के मालिक भी राधाकिशन दमानी हैं. भारत के रिटेल किंग कहे जाने वाले दमानी दिग्गज निवेशक राकेश झुनझुनवाला के भी गुरु हैं. शेयर बाजार में उनकी टिप्स को फोलो किया जाता है. राधाकिशन दमानी भारत के टॉप 10 अमीरों की लिस्ट में शामिल हैं. हाल ही में दमानी ने दक्षिण मुंबई के मलाबार हिल्स इलाके में 1,001 करोड़ रुपये का बंगला खरीदा था.

राकेश झुनझुनवाला के भी गुरु हैं राधाकिशन दमानी

राधाकिशन दमानी ने शेयर बाजार में अपनी शुरुआत 1980 के दशक में की थी. उन्होंने 5000 रुपये से निवेश की शुरुआत की थी. राधाकिशन दमानी वह हमेशा सफेद कपड़े पहनते हैं और शेयर बाजार के दिग्गज निवेशकों के बीच 'मिस्टर व्‍हाइट एंड व्‍हाइट' के नाम से मशहूर हैं. उनकी सलाह है कि किसी भी शेयर में छोटी अवधि के लिए पैसा लगाने से बचें. एक सेक्टर के बजाए हर सेक्टर के अच्छे शेयरों पर नजर रखें. ब्लूमबर्ग बिलेनियर इंडेक्स के मुताबिक राधाकिशन दमानी की सबसे अच्छा स्टॉक ट्रेडर कौन है? दौलत 19.3 बिलियन डॉलर यानी 1.42 लाख करोड़ रुपये है. संपत्ति के मामले में दमानी दुनिया के अमीरों की सूची में 97वें स्थान पर आ गए हैं. दमानी ने इंडिया सीमेंट, वीएसटी इंडस्ट्रीज, ब्लूडार्ट, सिनेप्लेक्स कंपनियां और कुछ तंबाकू कंपनियों में निवेश किए हैं. राधाकिशन दमानी के पिता एक शेयर ब्रोकर थे.

डॉली खन्ना

3. डॉली खन्ना : पुरुषों के वर्चस्व वाले भारतीय शेयर बाजार (Share Market) में एक महिला निवेशक ने भी अपना लोहा मनवाया है. चेन्नई की दिग्गज निवेशक डॉली खन्ना (Dolly Khanna) ने शेयरों से करोड़ों की कमाई कर यह उपलब्धि हासिल की है. डॉली ने अपने पति राजीव खन्ना (Rajiv Khanna) के साथ मिलकर शेयरों में निवेश से मोटी कमाई की है. डॉली खन्ना चमक-दमक से दूर रहती हैं.

इन शेयरों में डॉली खन्ना का निवेश

डॉली खन्ना के पोर्टफोलियो का प्रबंधन उनके पति राजीव खन्ना करते हैं. डॉली खन्ना के पास कई कंपनियों में बड़ी हिस्सेदारी है. मुथूट कैपिटल, टाटा मेटालिक्स, रेन इंडस्ट्रीज, बटरफ्लाइ गांधीमठी अप्लायंसेज, आरएसडब्ल्यूएम, श्रीकलाहस्ती पाइप्स. Polyplex Corporation, तिरुमला केमिकल्स, रेडिको खेतान (Radico Khaitan) और जेके पेपर (JK Paper) में निवेश हैं. डॉली खन्ना की फिलहाल 357.4 करोड़ रुपये की नेटवर्थ है. राजीव खन्ना का कहना है कि शेयर बाजार में सफलता के लिए सिर्फ मेरिट काफी नहीं है. थोड़ा किस्मत का भी साथ होना चाहिए.

रामदेव अग्रवाल (Raamdeo Agrawal)

4. रामदेव अग्रवाल (Raamdeo Agrawal): दिग्गज निवेशक और मोतीलाल ओसवाल फाइनेंस सर्विसेज लिमिटेड (Motilal Oswal Financial Services) के प्रबंध निदेशक रामदेव अग्रवाल दलाल स्ट्रीट के मंझे हुए खिलाड़ी हैं. साल 1983 में सीए के पढ़ाई पूरी करने के बाद रामदेव अग्रवाल को कई नौकरियों के कई ऑफर आए. लेकिन उन्होंने शेयर बाजार की राह चुनी. उन्होंने 25 साल पहले 4-5 लाख रुपये से निवेश की शुरुआत की थी. रामदेव का कहना है कि उसी कंपनी में निवेश करें, जिसका बिजनेस अच्छा हो और उस बिजनेस को चलाने वाला मैनेजमेंट अच्छा हो. उनके पोर्टफोलियो में Maharashtra Scooters, Bharat Wire Ropes लिमिटेड और Motilal Oswal Financial Services लिमिटेड हैं.

अनिल कुमार गोयल

5. अनिल कुमार गोयल : इस दिग्गज निवेशक को स्मॉलकैप शेयरों में खास दिलचस्पी है. क्वालिटी स्मॉलकैप शेयरों में निवेश कर मोटी कमाई करने में ये माहिर हैं. गोयल के पास बीएसई स्मॉलकैप इंडेक्स की कम से कम 30 कंपनियों में अच्छी-खासी हिस्सेदारी है. अनिल कुमार गोयल (Anil Kumar Goel) का जेबीएम ऑटो, श्रीकलाहस्ती पाइप्स, तिरुमला केमिकल्स, कॉस्मो फिल्म्स, द्वारिकेष शुगर इंडस्ट्रीज, ओपी चेन्स, सांघ्वी मूवर्स और वर्धमान होल्डिंग्स में बड़ा निवेश किया है. गोयल की कुल नेटवर्थ (Anil Kumar Goel Net Worth) 1,330.9 करोड़ रुपये की है.

भारत के सबसे सफल इन्वेस्टर्स की कहानी, जिन्होंने स्टॉक मार्केट से अरबों-खरबों कमाए

स्टॉक मार्केट की बात करें, तो हमारे पास कुछ ऐसे नाम हैं, जिन्हें स्टॉक मार्केट में निवेश करने वाले सबसे ज़्यादा सफल लोगों की श्रेणी में रखा जा सकता है। इन्होंने स्टॉक मार्केट के ज़रिए अरबों-खरबों रुपए कमाए।

Most-successful-Investors

Rakesh-Jhunjhunwala

उन्हें पहला सबसे बड़ा रिटर्न तब मिला, जब उन्होंने टाटा टी के 5000 शेयर बेचे थे। राकेश ने टाटा टी के शेयर तब खरीदे थे, जब एक शेयर की कीमत 43 रुपए थी, लेकिन जब राकेश ने ये शेयर बेचे, तब तक एक शेयर की कीमत 143 रुपए हो चुकी थी। राकेश ने सबसे अच्छा स्टॉक ट्रेडर कौन है? 2003 में टाइटन के 6 करोड़ शेयर खरीदे थे। उस समय टाइटन के एक शेयर की कीमत 3 रुपए थी। टाइटन के स्टॉक आज भी राकेश के पोर्टफोलियो में हैं और फरवरी 2018 में टाइटन के एक शेयर की कीमत 835 रुपए थी। राकेश वॉरेन बफेट के तौर-तरीकों में यकीन रखते हुए लॉन्ग-टर्म निवेश करते हैं। 2016 में फोर्ब्स ने राकेश को भारत का 53वां सबसे अमीर शख्स बताया था।

#2. राधाकिशन धमनी, 61 साल
फरवरी 2018 के आंकड़ों के मुताबिक राधाकिशन की कुल सपंत्ति 7 अरब डॉलर यानी करीब पांच खरब रुपए थी। राधा पेशे से निवेशक, स्टॉक ब्रोकर, ट्रेडर और Dmart के संस्थापक और प्रमोटर हैं। अपने सादे और हमेशा सफेद कपड़ पहनने की वजह से इन्हें 'मिस्टर वाइट ऐंड वाइट' के नाम से जाना जाता है। वह एक और खरबपति राकेश झुनझुनवाला के मेंटर भी हैं। राधा सार्वजनिक रूप से या किसी प्रेस कॉन्फ्रेंस में बहुत ही कम नज़र आते हैं। 21 मार्च 2017 को Avenue supermart1 (Dmart की पैरंट कंपनी) के स्टॉक की कीमत दोगुने से भी ज़्यादा बढ़ गई। यह 299 रुपए प्रति शेयर से 116% बढ़कर 648 सबसे अच्छा स्टॉक ट्रेडर कौन है? रुपए प्रति शेयर हो गई थी।

Radhakishan-Damani

इस बढ़त ने राधाकिशन को सिर्फ दो दिनों में 6100 करोड़ से भी ज़्यादा का मालिक बना दिया था। Avenue supermart1 के 52% हिस्से का मालिकाना हक राधाकिशन के पास है। इसके अलावा उन्होंने Bright Star Investments में निवेश कर रखा है, जिसमें उनकी 16% की हिस्सेदारी है। इनकी सबसे खास बात यह बताई जाती है कि इनका शुरुआत से शेयर मार्केट में आने की कोई योजना नहीं थी। स्टॉक मार्के में इन्होंने 32 साल की उम्र में कदम रखा था। इससे पहले वह Ball Bearing का बिजनेस करते थे, लेकिन पिता की मौत के बाद वह यह व्यापार बंद करके अपने भाई के साथ शेयर ब्रोकिंग के बिजनेस में आ गए। कुछ गलतियां करने और मार्केट को समझने के बाद उन्होंने खुद निवेश करना शुरू किया और आज नतीजा सबके सामने है।

#3. रमेश धमनी, 61 साल
फरवरी 2018 के आंकड़ों के मुताबिक राकेश की कुल संपत्ति 1.24 अरब डॉलर यानी करीब 86 अरब रुपए थी। कॉमर्स से पढ़ाई करने वाले रमेश 'रमेश धमनी फाइनेंस प्राइवेट लिमिटेड' के मालिक हैं। शेयर मार्केट में रमेश ने 1990 के दशक में शुरुआत की थी, जब सेंसेक्स 600 पॉइंट्स पर था। वह 1989 में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) के सदस्य बने। उन्होंने सोचा था कि वह स्टॉक ब्रोकर बनेंगे, लेकिन मार्केट में रहते हुए उन्होंने धीरे-धीरे फायदा देने वाले स्टॉक की पहचान करना सीख लिया और फिर लॉन्ग-टर्म इन्वेस्टर बन गए।

Ramesh-Damani

उनका पहला चर्चित निवेश इन्फोसिस में किया निवेश था। इन्फोसिस 1993 में पब्लिक हुई थी और रमेश ने अंदाज़ा लगा लिया कि यह कंपनी आगे चलकर बड़ा मुनाफा कमाने वाली है। 1993 में रमेश ने इन्फोसिस में 10 लाख रुपए का निवेश किया और 1999 तक उनका यह निवेश उन्हें 100 गुना से ज़्यादा रिटर्न दे चुका था। निवेश करने वालों के लिए रमेश का मंत्र है कि अगर स्टॉक की कीमत दोगुनी होती है, तो इसका यह मतलब नहीं कि आप उन्हें बेच दें। साथ ही, वह लोगों को सुझाव देते हैं कि निवेश करने से पहले आप अपनी एग्ज़िट रणनीति पहले ही तैयार कर लें।

इन तीनों के अलावा भारत के सबसे सफल स्टॉक मार्केट निवेशकों की लिस्ट में रामदेव अग्रवाल, नेमिश शाह, विजय केड़िया, चंद्रेश निगम, चैतन्य डालमिया, चंद्रकांत संपत, पराग पारीख, डॉली खन्ना और संजय बख्शी का नाम आता है।

शेयर बाजार से पैसा बनाने के कारगर टिप्‍स, निवेश से पहले ध्‍यान रखें ये 7 बातें

7 simple ways to make money in stocks: शेयर बाजार में खासकर दो तरह के ट्रेडर होते हैं. एक जो फंडामेंटल पर फोकस रखते हैं और दूसरे जो अटकलों पर फैसला करते हैं.

Stock Market Investment Tips: शेयर बाजार से अगर पैसा बनाना चाहते हैं, कुछ खास बातों का जरूर ध्‍यान रखना चाहिए. आमतौर पर शेयर बाजार में पैसा लगाने वाले यह सोचते हैं कि वो कम समय में तगड़ा मुनाफा कमा लेंगे. कई बार ऐसा होता है कि कुछ घंटे में शेयर से मोटा मुनाफा हो जाता है. इससे उलट भारी नुकसान भी उठाना पड़ जाता है. बहरहाल, यह जान लें कि इक्विटी में ट्रेडिंग उतनी आसान भी नहीं है, जितनी आम निवेशक समझते हैं. बाजार में आपको अनुशासन और धैर्य की जरूरत पड़ती है. मार्केट में निवेश से पहले अच्‍छी तरह रिसर्च कर लेनी चाहिए. ऐसे 7 ऐसे आसान टिप्‍स जानते हैं, जिनको फॉलो कर बाजार से अच्‍छी कमाई की जा सकती है.

फंडामेंटल मजबूती का रखें ध्‍यान

शेयर बाजार में खासकर दो तरह के ट्रेडर होते हैं. एक जो फंडामेंटल पर फोकस रखते हैं और दूसरे जो अटकलों पर फैसला करते हैं. दोनों में बुनियादी फर्क स्‍टॉक की कीमत पर उनका नजरिया रहता है. फंडामेंटल निवेशक हमेशा से कंपनी की मजबूती पर ध्‍यान देता है न कि शेयर की कीमत पर. हमेशा फंडामेटल मैथड पर निवेश की कोशिश करनी चाहिए. बाजार से पैसा बनाने का यह अच्‍छा तरीका है.

कही-सुनी या दूसरों को देखकर न बनाएं स्‍ट्रैटजी

शेयर बाजार में इक्विटी की खरीद-बिक्री को लेकर किसी खास तरह की सोच में न रहे. कई ट्रेडर्स स्टॉक खरीदने या बेचने का फैसला ज्यादातर उनके जानकारों के प्रभाव में आकर करते हैं. अगर उनके आस-पास के सभी लोग किसी खास स्टॉक में निवेश कर रहे हैं, तो एक वह ट्रेडर भी उसी स्टॉक में निवेश करता है. इस तरह की स्‍ट्रैटजी से बचना चाहिए. लॉन्‍ग टर्म में यह स्‍ट्रैटजी सही नहीं है. दुनिया के दिग्‍गज निवेशक वारेन बफेट ने जब दूसरे लालची हो जाएं तो डरने की जरूरत है, वहीं जब जब दूसरे डर रहे हो, तो आप लालची बन जाएं.

बाजार में कभी भी जल्‍दबाजी न करें

स्‍टॉक मार्केट में कभी भी जल्‍दबाजी न करें. शेयर के दाम बढ़ने से पहले खरीदना और गिरने से पहले तुरंत बेचने का फैसला नुकसान करा सकता है. ज्‍यादातर निवेशक यह मानते हैं कि ट्राइंग टू टाइम इन मार्केट सही स्‍ट्रैटजी नहीं है. ऐसा इसलिए क्‍योंकि किसी भी स्‍टॉक में सटीक टॉप और बॉटम का अंदाजा लगाना मुमकिन नहीं है. अगर बाजार से पैसा कमाना है, तो इस तरह की स्‍ट्रैटजी से बचें.

निवेश में अनुशासन जरूरी

बाजार में अनुशासन बहुत जरूरी है. बाजार के इतिहास देखें तो बुल मार्केट में भी अधिकांश निवेशकों में डर होता है. शेयर बाजार में भारी उतार-चढ़ाव के चलते निवेशक अपनी कमाई डुबो देते हैं, वो भी तब जब मार्केट में बुलिश ट्रेंड रहा. यानी, तेजी का दौर रहा. इसलिए निवेशकों को निवेश को लेकर अनुशासन भरा रवैया रखना चाहिए. अगर लॉन्‍ग टर्म में कमाई करना चाहते हैं, तो निवेश का सिस्‍टमेटिक अप्रोच होना जरूरी है.

बाजार में अपना सरप्‍लस फंड ही लगाएं

अकसर यह सुनने में आता है कि शेयरों में निवेश के चलते कोई व्‍यक्ति भारी कर्ज में फंस गया. अगर आप शेयर बाजार में निवेश की शुरुआत कर रहे हैं तो हमेशा सरप्‍लस फंड ही निवेश करें. सरप्‍लस फंड से मतलब कि जो आपके पास आपके खर्चों और अन्‍य जरूरतों को पूरा करने के बाद बचता है. अगर आपको मुनाफ होने लगता है, तो आप उस पैसे को दोबारा निवेश करेंगे. कभी भी लोन या कर्ज लेकर निवेश न करें.

Zee Business Hindi Live TV यहां देखें

भावनाओं पर काबू रखें

बाजार में हमेशा भावनाओं में बहकर फैसला नहीं करना चाहिए. अगर आपका शेयर खरीदने-बेचने को लेकर इमोशंस पर कंट्रोल नहीं है तो आप भारी नुकसान करा सकते हैं. जब बाजार में तेजी रहती है तो ट्रेडर्स ज्‍यादा आकर्षित होते हैं और उस चक्‍कर में गलत शेयरों में पैसा लगा बैठते हैं. डर और लालच, ये दो ऐसे फैक्‍टर हैं, जिन पर शेयर में ट्रेडिंग के दौरान कंट्रोल होना चाहिए.

लक्ष्‍य हासिल करने लायक रखें

शेयर बाजार में निवेश को लेकर एक वास्‍तविक गोल रखें. निवेशकों को हमेशा लगता है कि उन्‍होंने जो निवेश किया है वह बेस्‍ट रिटर्न देगा. लेकिन अगर आपका फाइनेंशियल गोल रियलस्टिक नहीं है तो आप परेशानी में फंस सकते हैं. बाजार में कभी भी समान रिटर्न की उम्‍मीद न करें.


(नोट: स्‍टॉक मार्केट के ये टिप्‍स ब्रोकरेज फर्म मोतीलाल ओसवाल के ब्‍लॉग से लिया गया है.)

शेयर बाजार से पैसा बनाने के कारगर टिप्‍स, निवेश से पहले ध्‍यान रखें ये 7 बातें

7 simple ways to make money in stocks: शेयर बाजार में खासकर दो तरह के ट्रेडर होते हैं. एक जो फंडामेंटल पर फोकस रखते हैं और दूसरे जो अटकलों पर फैसला करते हैं.

Stock Market Investment Tips: शेयर बाजार से अगर पैसा बनाना चाहते हैं, कुछ खास बातों का जरूर ध्‍यान रखना चाहिए. आमतौर पर शेयर बाजार में पैसा लगाने वाले यह सोचते हैं कि वो कम समय में तगड़ा मुनाफा कमा लेंगे. कई बार ऐसा होता है कि कुछ घंटे में शेयर से मोटा मुनाफा हो जाता है. इससे उलट भारी नुकसान भी उठाना पड़ जाता है. बहरहाल, यह जान लें कि इक्विटी में ट्रेडिंग उतनी आसान भी नहीं है, जितनी आम निवेशक समझते हैं. बाजार में आपको अनुशासन और धैर्य की जरूरत पड़ती है. मार्केट में निवेश से पहले अच्‍छी तरह रिसर्च कर लेनी चाहिए. ऐसे 7 ऐसे आसान टिप्‍स जानते हैं, जिनको फॉलो कर बाजार से अच्‍छी कमाई की जा सकती है.

फंडामेंटल मजबूती का रखें ध्‍यान

शेयर बाजार में खासकर दो तरह के ट्रेडर होते हैं. एक जो फंडामेंटल पर फोकस रखते हैं और दूसरे जो अटकलों पर फैसला करते हैं. दोनों में बुनियादी फर्क स्‍टॉक की कीमत पर उनका नजरिया रहता है. फंडामेंटल निवेशक हमेशा से कंपनी की मजबूती पर ध्‍यान देता है न कि शेयर की कीमत पर. हमेशा फंडामेटल मैथड पर निवेश की कोशिश करनी चाहिए. बाजार से पैसा बनाने का यह अच्‍छा तरीका है.

कही-सुनी या दूसरों को देखकर न बनाएं स्‍ट्रैटजी

शेयर बाजार में इक्विटी की खरीद-बिक्री को लेकर किसी खास तरह की सोच में न रहे. कई ट्रेडर्स स्टॉक खरीदने या बेचने का फैसला ज्यादातर उनके जानकारों के प्रभाव में आकर करते हैं. अगर उनके आस-पास के सभी लोग किसी खास स्टॉक में निवेश कर रहे हैं, तो एक वह ट्रेडर भी उसी स्टॉक में निवेश करता है. इस तरह की स्‍ट्रैटजी से बचना चाहिए. लॉन्‍ग टर्म में यह स्‍ट्रैटजी सही नहीं है. दुनिया के दिग्‍गज निवेशक वारेन बफेट ने जब दूसरे लालची हो जाएं तो डरने की जरूरत है, वहीं जब जब दूसरे डर रहे हो, तो आप लालची बन जाएं.

बाजार में कभी भी जल्‍दबाजी न करें

स्‍टॉक मार्केट में कभी भी जल्‍दबाजी न करें. शेयर के दाम बढ़ने से पहले खरीदना और गिरने से पहले तुरंत बेचने का फैसला नुकसान करा सकता है. ज्‍यादातर निवेशक यह मानते हैं कि ट्राइंग टू टाइम इन मार्केट सही स्‍ट्रैटजी नहीं है. ऐसा इसलिए क्‍योंकि किसी भी स्‍टॉक में सटीक टॉप और बॉटम का अंदाजा लगाना मुमकिन नहीं है. अगर बाजार से पैसा कमाना है, तो इस तरह की स्‍ट्रैटजी से बचें.

निवेश में अनुशासन जरूरी

बाजार में अनुशासन बहुत जरूरी है. बाजार के इतिहास देखें तो बुल मार्केट में भी अधिकांश निवेशकों में डर होता है. शेयर बाजार में भारी उतार-चढ़ाव के चलते निवेशक अपनी कमाई डुबो देते हैं, वो भी तब जब मार्केट में बुलिश ट्रेंड रहा. यानी, तेजी का दौर रहा. इसलिए निवेशकों को निवेश को लेकर अनुशासन भरा रवैया रखना चाहिए. अगर लॉन्‍ग टर्म में कमाई करना चाहते हैं, तो निवेश का सिस्‍टमेटिक अप्रोच होना जरूरी है.

बाजार में अपना सरप्‍लस फंड ही लगाएं

अकसर यह सुनने में आता है कि शेयरों में निवेश के चलते कोई व्‍यक्ति भारी कर्ज में फंस गया. अगर आप शेयर बाजार में निवेश की शुरुआत कर रहे हैं तो हमेशा सरप्‍लस फंड ही निवेश करें. सरप्‍लस फंड से मतलब कि जो आपके पास आपके खर्चों और अन्‍य जरूरतों को पूरा करने के बाद बचता है. अगर आपको मुनाफ होने लगता है, तो आप उस पैसे को दोबारा निवेश करेंगे. कभी भी लोन या कर्ज लेकर निवेश न करें.

Zee Business Hindi Live TV यहां देखें

भावनाओं पर काबू रखें

बाजार में हमेशा भावनाओं में बहकर फैसला नहीं करना चाहिए. अगर आपका शेयर खरीदने-बेचने को लेकर इमोशंस पर कंट्रोल नहीं है तो आप भारी नुकसान करा सकते हैं. जब बाजार में तेजी रहती है तो ट्रेडर्स ज्‍यादा आकर्षित होते हैं और उस चक्‍कर में गलत शेयरों में पैसा लगा बैठते हैं. डर और लालच, ये दो ऐसे फैक्‍टर हैं, जिन पर शेयर में ट्रेडिंग के दौरान कंट्रोल होना चाहिए.

लक्ष्‍य हासिल करने लायक रखें

शेयर बाजार में निवेश को लेकर एक वास्‍तविक गोल रखें. निवेशकों को हमेशा लगता है कि उन्‍होंने जो निवेश किया है वह बेस्‍ट रिटर्न देगा. लेकिन अगर आपका फाइनेंशियल गोल रियलस्टिक नहीं है तो आप परेशानी में फंस सकते हैं. बाजार में कभी भी समान रिटर्न की उम्‍मीद न करें.


(नोट: स्‍टॉक मार्केट के ये टिप्‍स ब्रोकरेज फर्म मोतीलाल ओसवाल के ब्‍लॉग से लिया गया है.)

रेटिंग: 4.94
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 242
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *