लाभदायक ट्रेडिंग के लिए संकेत

कुल मार्जिन

कुल मार्जिन
अमर उजाला ब्यूरो
Updated Mon, 28 Nov 2022 09:00 AM IST

योगदान मार्जिन

प्रधान मंत्री रोजगार योजना

यह योजना अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजातियों, पूर्व सैनिकों, शारीरिक रूप से विकलांग व्यक्तियों और महिलाओं के लिए 10 वर्ष की आयु छूट के साथ, 18-35 वर्ष के सभी शिक्षित बेरोजगार व्यक्तियों के लिए है। इस योजना में अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति के लिए 22.5% आरक्षण और कुल मार्जिन अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) के लिए 27% की योजना है।

कृषि और संबद्ध कुल मार्जिन गतिविधियों सहित सभी आर्थिक रूप से व्यवहार्य गतिविधियां, लेकिन फसल को बढ़ाने, खाद की खरीद आदि जैसे प्रत्यक्ष कृषि संचालन को छोड़कर इस योजना के अंतर्गत शामिल हैं।

पृथक मार्जिन ट्रेडिंग पोजीशन क्या हैं

ऐतिहासिक लेनदेन में किसी पोजीशन की लागत और लाभ/हानि की गणना के लिए पृथक मार्जिन ट्रेडिंग पोजीशन का उपयोग किया जाता है। पृथक मार्जिन पोजीशन आपके खाते में निधि की राशि या आपके उधार लेने के व्यवहार पर निर्भर नहीं करता है। इसके बजाय, यह गणना करने के लिए ट्रेडिंग युग्म (लॉन्ग और शार्ट) के ऐतिहासिक ट्रेड से संचयी डेटा का उपयोग करता है। पोजीशन की जानकारी की पुनर्गणना की कुल मार्जिन जाती है और हर 5 मिनट में अपडेट किया जाता है। उदाहरण के लिए, यदि आप सिस्टम की पुनर्गणना से पहले 5 मिनट के भीतर मार्जिन ट्रेड करते/करती हैं, तो पोजीशन मूल्य और लाभ/हानि की गणना प्रचलित गणनाओं पर आधारित होगी।

यदि आप लेनदेन की एक श्रृंखला पर एक लॉन्ग/शार्ट मार्जिन पोजीशन खोलते/खोलती हैं, तो आपके ट्रेड की औसत लागत की गणना के लिए पृथक मार्जिन ट्रेडिंग कुल मार्जिन पोजीशन गणना का उपयोग किया जा सकता है। यह आपकी ऐतिहासिक व्यापारिक गतिविधि के आधार पर आपके लाभ और हानि और पोजीशन मूल्य की जांच करने के लिए सुविधाजनक है, ताकि आप बेहतर निवेश निर्णय ले सकें।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

ट्रेडिंग पोजीशन से तात्पर्य उस असेट की कुल खरीद (लॉन्ग)/ कुल बिक्री (शार्ट) राशि से है, जिसका आपने प्रारंभिक पोजीशन खोलने के बाद से किसी विशेष पृथक ट्रेडिंग युग्म में कारोबार किया था। उदाहरण के लिए, यदि आपने लेनदेन की एक श्रृंखला पर मार्जिन पोजीशन खोली है, तो आप अपने कुल पोजीशन आकार को निर्धारित करने में सहायता के लिए संचयी गणना का उपयोग कर सकते/सकती हैं।

मान लीजिए कि आपने एक BTCUSDT पृथक मार्जिन पोजीशन खोली है और अपनी प्रारंभिक पोजीशन के बाद लेनदेन की एक श्रृंखला बनाई है। प्रत्येक लेनदेन के बाद कुल खरीद मात्रा इस प्रकार है:

तारीखव्यापारमात्रासंचयी कुल खरीद (ट्रेडिंग पोजीशन)दिशा
T+1खरीदें10 BTC10 BTCलॉन्ग
T+2बेचें7 BTC3 (= 10 - 7) BTCलॉन्ग
T+3बेचें2 BTC1 (= 3 - 2) BTCलॉन्ग
T+4बेचें5 BTC-4 (= 1 - 5) BTCशार्ट
T+5खरीदें4 BTC0 (= -4 + 4) BTCअमान्य

जिला परिषद चुनाव परिणाम: फाइल-2: वार्ड-2 से गैंगस्टर रणदीप कवी जीते

Amar Ujala Bureau

अमर उजाला ब्यूरो
Updated Mon, 28 Nov 2022 09:00 AM IST

Ward-2 gangster Randeep Kavi won

पानीपत। जिला परिषद चुनाव में वार्ड-2 से गैंगस्टर रणदीप कवी ने जीत दर्ज की। रणदीप को कुल 10418 वोट मिले जबकि उनके प्रतिद्वंद्वी रहे सुरेंद्र भालसी को 9295 वोट मिले। कांटे की टक्कर के चुनाव में रणदीप की जीत का मार्जिन 1123 वोटों का रहा।
उधर सबसे ज्यादा कांटे की टक्कर वार्ड नंबर-17 में देखने को मिली। यहां जितेंद्र ने सतबीर को सिर्फ 187 वोटों से हराया। वार्ड के इस चुनाव में जितेंद्र को 4377 वोट मिले जबकि उनके प्रतिद्वंद्वी रहे सतबीर को 4195 वोट मिले हैं। महज 187 वोटों से जितेंद्र ने सतबीर को हरा जीत दर्ज की।
इसके साथ ही वार्ड -8 में सुंदर ने अपने प्रतिद्वद्व़ियों के सामने वोटों का पहाड़ खड़ा कर दिया। उन्हें 9913 वोट मिले जबकि दूसरे नंबर पर रहे प्रत्याशी रजनीश को सिर्फ 4280 वोटों से संतोष करना पड़ा। तीसरे नंबर के प्रत्याशी मनोज को 4199 वोट मिले। दूसरे और तीसरे नंबर कुल मार्जिन के प्रत्याशियों की वोट का कुल योग भी सुंदर के सामने बेहद कम रहा।

रेटिंग: 4.85
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 603
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *